भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

सृंगारना, सृंगारनो

सजाना।
Grametical Category: क्रि.स.
Etemology: (सं. श्रृंगारना)

सृंगारिया

देव-मूर्ति का श्रृंगार करनेवाला।
Grametical Category: वि.
Etemology: (सं. श्रृंगारिया)

सृंगी

पुं.

हाथी।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. श्रृंगी)

सृंगी

पुं.

पहाड़।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. श्रृंगी)

सृंगी

पुं.

सींगवाला पशु।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. श्रृंगी)

सृंगी

पुं.

सींग का बना हुआ एक प्रकार का बाजा।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. श्रृंगी)
Description with Example: उ.- मुरली बेंत बिषान देखियो सृंगी बेर सबेरो। लै जिनि जाइ चुराइ राधिका कछुक खिलौना मेरो-२९६५।

सृंगी

पुं.

शिव, महादेव।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. श्रृंगी)

सृंगी

पुं.

एक प्राचीन ऋषि जिनके शाप से परीक्षित को तक्षक नाग ने काटा था।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. श्रृंगी)
Description with Example: उ.- रिषि समाधि महँ त्यौंही रहयौ। सृंगी रिषि सौं लरिकन कहयौ। ¨¨¨। नृपति दोष कहियै किहिं जाइ। दियौ साप तिहिं तच्छक खाइ-१−२९०।

सृक

पुं.

भाला, शूल।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं.)

सृक

पुं.

तीर, वाण।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं.)

सृक

पुं.

हवा, वायु।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं.)

सृक

पुं.

कमल का फूल।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं.)

सृक

पुं.

हार, माला।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. स्रज, स्रक)
Description with Example: उ.- (क) सूर परस्पर करत कुलाहल गर सृक (पाठा.- सृग) पहिरावैनी-९−११। (ख) की सृक सीपज की बग-पंगति की मयूर की पीड पखी री-१६२७।

सृकाल

पुं.

सियार।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. श्रृगाल)

सृक्क, सृक्व

पुं.

ओठों का छोर, मुँह का कोना।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. सृक्व)

सृग

पुं.

भाला, बरछा।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. सृक)

सृग

पुं.

तीर, वाण।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. सृक)

सृग

पुं.

हवा, वायु।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. सृक)

सृग

पुं.

कमल का फूल।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. सृक)

सृग

पुं.

हार, गजारा, माला।
Grametical Category: संज्ञा
Etemology: (सं. स्रज, स्रक)
Description with Example: उ.- गर-सृग पहिरावैनी-९−११।
Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App